नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी सहित समूचे उत्तर भारत में भीषण गर्मी का प्रकोप जारी है। मौसम विभाग ने राष्ट्रीय राजधानी में लोगों को अगले दो-तीन दिन तक चिलचिलाती गर्मी एवं शुष्क मौसम से राहत नहीं मिलने का पूर्वानुमान जताया है। वहीं देश के सीमाई राज्यों में जम्मू कश्मीर के जम्मू एवं राजस्थान में गर्मी चरम पर रही। दक्षिण भारत के तेलंगाना में भी लू का प्रकोप जारी है।

तेलंगाना में 31 मई तक लू का प्रकोप जारी रहने का अनुमान है। वहीं राज्य के आदिलाबाद जिले में मंगलवार को अधिकतम 46.3 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। राष्ट्रीय राजधानी में अधिकतम तापमान 41.8 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। स्थानीय मौसम विभाग के अधिकारियों ने newswithchai को बताया कि हवा में नमी का स्तर 15 और 57 प्रतिशत के बीच घटता-बढ़ता रहा।

राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार के दिन भी भीषण गर्मी पड़ने का पूर्वानुमान है और पारा 44 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की आशंका है। अधिकारी ने बताया कि शहर में दूरदराज के इलाकों में लू चल सकती है और न्यूनतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है। सोमवार को शहर का अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 41.9 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 25.4 डिग्री दर्ज किया गया।

मौसम अधिकारियों ने इससे पहले अनुमान जताया था कि इस सप्ताह पारा ऊपर चढ़ना जारी रहेगा। निजी मौसम एजेंसी स्काईमेट ने कहा था कि मई के शेष दिनों में मौसम शुष्क रहेगा और दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र के कुछ भागों में लू चल सकती है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग, हैदराबाद ने चेतावनी दी है कि तेलंगाना के सभी जिलों में सुदूरवर्ती इलाकों में बुधवार से 31 मई तक लू की स्थिति बने रहने की आशंका है।

आदिलाबाद में मंगलवार को अधिकतम तापमान 46.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। निजामाबाद में यह 45.9 डिग्री सेल्सियस, नलगोंडा में 45.5 डिग्री सेल्सियस जबकि हैदराबाद में 43.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने लोगों को सीधे-सीधे धूप के संपर्क से बचने और लू से बचाव के लिए जरूरी उपाय करने की सलाह दी है। रामागुंडम में सोमवार को अधिकतम तापमान 47.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

तेलंगाना के कई हिस्सों में लू की स्थिति बनी हुई है। राज्य सरकार ने लू की स्थिति को देखते हुए बीते शुक्रवार को स्कूलों में 11 जून तक ग्रीष्मकालीन अवकाश की घोषणा की है। तेलंगाना में स्कूल 12 जून को खुलेंगे। जम्मू में मंगलवार को इस मौसम का अब तक का सबसे गर्म दिन दर्ज किया गया और पारा 41.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि शहर के तापमान में पिछले कुछ दिन से इजाफा हो रहा है।

उन्होंने बताया कि शहर में न्यूनतम तापमान सामान्य से 1.5 डिग्री सेल्सियस कम यानी 23.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। प्रवक्ता ने बताया कि वैष्णोदेवी की यात्रा करने वाले श्रद्धालुओं के लिए आधार शिविर रियासी जिला स्थित कटरा शहर जम्मू संभाग का दूसरा सबसे गर्म स्थान रहा, जहां अधिकतम तापमान 37.2 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 21.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम विभाग ने शुक्रवार तक शुष्क मौसम रहने का पूर्वानुमान जताया है। वहीं राजस्थान के कुछ हिस्सों में भीषण गर्मी और गर्म हवाओं के चलने से आम जनजीवन प्रभावित रहा। बीकानेर में अधिकतम तापमान 45.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम विभाग के प्रवक्ता के अनुसार श्रीगंगानगर-जैसलमेर में अधिकतम तापमान 45.2-45.2 डिग्री सेल्सियस, चूरू में 45.1 और कोटा में 45 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। उन्होंने बताया कि बाड़मेर में अधिकतम तापमान 44.6, जोधपुर में 44.5, अजमेर में 43.5, और राजधानी जयपुर में 43.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। विभाग ने आगामी 48 घंटों के दौरान पश्चिमी राजस्थान में लू चलने की आशंका जताई।