राष्ट्रपति भवन की लाल कालीन से फिर से वह आवाज गूंजती है “मैं नरेंद्र दामोदर दास मोदी”… ऐतिहासिक क्षण की वो तारीख एक बार फिर सामने आ गई और इस बार कुछ ज्यादा ही भव्यता के साथ, कुछ ज्यादा ही विराट, कुछ ज्यादा वैभवशाली। नरेंद्र मोदी ने जब दूसरी बार पीएम पद की शपथ ली तो राष्ट्रपति भवन की दीवार, मीनार मेहराब और हर दरवाजे पर कामयाबी का नया इतिहास लिखा गया। इस बात से तो कोई इंकार नहीं कर सकता कि वर्तमान दौर में मोदी के सामने न कोई नेता है न कोई पार्टी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने नरेंद्र मोदी को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। नरेंद्र मोदी के बाद राजनाथ सिंह, अमित शाह, नितिन गडकरी, सदानंद गौड़ा, निर्मला सीतारमण ने शपथ ली। लोजपा अध्यक्ष रामविलास पासवान ने भी कैबिनेट मंत्री के रुप में शपथ ली। इसके अलावा नरेंद्र सिंह तोमर, रविशंकर प्रसाद, हरसिमरत कौर बादल ने भी मंत्रीपद की शपथ ली।

Narendra Damodara Das Modi

मोदी कैबिनेट के चेहरे…

राजनाथ सिंह- मोदी सरकार-1 में गृह मंत्री रहे हैं।

अमित शाह- पहली बार कैबिनेट मंत्री बने।

नितिन गडकरी- मोदी सरकार में फिर कैबिनेट मंत्री बने।

सदानंद गौड़ा- मोदी सरकार-1 में सांख्यिकी और कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्री रहे हैं।

निर्मला सीतारमण- मोदी सरकार-1 में रक्षा मंत्री रहीं

राम विलास पासवान- मोदी सरकार-1 में खाद्य मंत्री रहे हैं।

नरेंद्र सिंह तोमर- मोदी सरकार-1 में ग्रामीण विकास और कोयला मंत्रालय रहे हैं।

रविशंकर प्रसाद- मोदी सरकार-1 में कानून मंत्री रहे।

हरसिमरत कौर बादल- मोदी सरकार-1 में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री रहीं।

थावरचंद गहलोत- सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री रहे हैं।

एस जयशंकर- पहली बार कैबिनेट में शामिल।

रमेश पोखरियाल निशंक- पहली बार केंद्रीय मंत्री बने।

अर्जुन मुंडा- पार्टी का बड़ा आदिवासी चेहरा

स्मृति ईरानी- मोदी सरकार-1 में कपड़ा मंत्री रहीं

डा. हर्षवर्धन- दिल्ली में भाजपा का बड़ा चेहरा, केंद्र में स्वास्थ्य और विज्ञान मंत्री रहे हैं।

प्रकाश जावड़ेकर- मोदी सरकार-1 में शिक्षा मंत्री रहे हैं।

पीयूष गोयल- मोदी सरकार-1 में रेल मंत्री रहे हैं।

धर्मेंद्र प्रधान- ओडिशा में भाजपा का बड़ा चेहरा, मोदी सरकार1 में पेट्रोलियम मंत्री रहे हैं।

मुख्तार अब्बास नकवी- भाजपा का बड़ा मुस्लिम चेहरा, मोदी सरकार-1 में अल्पसंख्यक मंत्री रह चुके हैं।

प्रह्लाद जोशी- कर्नाटक भाजपा के अध्यक्ष रहे हैं, लोकसभा की कार्यवाही संचालित कर चुके हैं।

अरविंद सावंत- कांग्रेस के मिलिंद देवड़ा को पराजित किया।

गिरिराज सिंह- बिहार के बड़े भूमिहार नेता हैं, मोदी सरकार-1 में लघु उद्योग राज्य मंत्री बने।

गजेंद्र शेखावत- स्वदेशी जागरण मंच से जुड़े हैं, मोदी सरकार-1 में कृषि राज्यमंत्री रहे।

Narendra Damodara Das Modi

राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार

संतोष गंगवार- बरेली से 8वीं बार सांसद चुने गए, मोदी सरकार-1 में श्रम-रोजगार राज्य मंत्री रहे हैं।

राव इंद्रजीत सिंह- 5 बार लोकसभा चुनाव जीत चुके हैं, मोदी सरकार-1 में रसायन, योजना राज्यमंत्री रहे।

श्रीपद नायक- अटल सरकार में राज्यमंत्री रह चुके हैं, मोदी सरकार-1

जितेंद्र सिंह- पीएम के भरोसेमंद माने जाते हैं, पीएमओ में राज्यमंत्री रहे हैं।

किरेन रिजिजू- 2004 में पहली बार सांसद बने, मोदी सरकार-1 में गृह राज्यमंत्री रहे।

प्रह्लाद पटेल- अटल सरकार में कोयला राज्यमंत्री रहे।

आर के सिंह- देश के गृह सचिव रह चुके हैं, मोदी सरकार-1 में बिजली मंत्री रहे हैं।

हरदीप सिंह पुरी- अमृतसर से चुनाव हारे हैं, मोदी-1 में शहरी विकास मंत्री रहे है।

मनसुख लाल मंडाविया- 2002 में सबसे कम उम्र के विधायक बने, मोदी-1 में सड़क परिवहन राज्यमंत्री रहे।

फग्गन सिंह कुलस्ते- मध्य प्रदेश में भाजपा का दलित चेहरा, पिछलाी बार भी मंत्री रहे हैं।

अश्विनी चौबे- मोदी-1 में स्वास्थ्य राज्यमंत्री रहे हैं, बिहार में भाजपा का बड़ा ब्राह्मण चेहरा।

अर्जुन मेघवाल- आईएएस अधिकारी रहे हैं, मोदी-1 में जल संसाधन राज्यमंत्री रहे हैं।

वीके सिंह- थल सेना अध्यक्ष रहे हैं, पिछली सरकार में विदेश राज्यमंत्री रहे।

कृष्णपाल गुर्जर- मोदी सरकार-1 में समाजिक न्याय राज्य मंत्री रहे हैं।

रावसाहेब दानवे- महराष्ट्र भाजपा के अध्यक्ष हैं, पिछली सरकार में भी मंत्री रह चुके हैं।

जी किशन रेड्डी- पहली बार सांसद बने हैं, तेलांगाना भाजपा के अध्यक्ष रह चुके हैं।

पुरुषोत्तम रुपाला- गुजरात के बड़े पाटीदार नेता हैं, मोदी सरकार-1 में कृषि राज्यमंत्री रहे हैं।

रामदास अठावले- यूपीए का भी हिस्सा रह चुके हैं, देश की राजनीति का बड़ा दलित चेहरा।

साध्वी निरंजन ज्योति- यूपी में पिछड़ा समाज का चेहरा, मोदी सरकार-1 में खाद्य प्रसंस्करण मंत्री रहीं।

बाबुल सुप्रियो- पेश से गायक हैं, मोदी सरकार-1 में शहरी विकास राज्यमंत्री रहे हैं।

संजीव बालियान- पश्चिमी यूपी के बड़े जाट किसान नेता हैं, आरएलडी के अजीत सिंह को हराया।

संजय धोत्रे- कृषि क्षेत्र में काम करने के लिए पुरस्कार मिला, पेशे से इंजीनियर हैं।

अनुराग ठाकुर- भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष रहे, बीसीसीआई के अध्यक्ष रहे हैं।

सुरेश अंगड़ी- लगातार चार बार सांसद रहे हैं।

नित्यानंद राय- यादव जाति से आते हैं, बिहार भाजपा के अध्यक्ष हैं।

रतन लाल कटारिया- हरियाणा में भाजपा का दलित चेहरा।

वी मुरलीधरण- केरल के रहने वाले हैं, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रहे हैं।

रेणुका सिंह- रमण सिंह सरकार में मंत्री रहीं हैं, राज्य की चर्चित आदिवासी चेहरा।

इसके अलावा सोम प्रकाश, रामेश्वर तेली, प्रताप चंद्र सारंगी, कैलाश चौधरी, देवश्री चौधरी ने केन्द्रीय राज्य मंत्री के तौर पर शपथ ली।

नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण कार्यक्रम को और भी ज्यादा वैभवशाली बनाने की कवायद में 6000 मेहमानों को न्यौता भेजा गया। इसके अलावा बिम्सटेक देशों के मेहमानों में बांग्लादेश, श्रीलंका, म्यांमार, थाईलैंड, नेपाल और भूटान के प्रमुख शामिल हुए। सभी भाजपा सांसदों और सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों की मौजूदगी भी रही। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी, अनुप्रिया पटेल, नीतीश कुमार, सुषमा स्वराज, लाल कृष्ण आडवाणी समेत कई बड़े नेता राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में मौजूद रहे।

साल 2014 में पीएम मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में देश विदेश की कई चर्चित हस्तियां मौजूद थीं। किरण खेर, हेमा मालिनी और सलमान खान जैसे सितारे उस दौरान इस शपथ ग्रहण समारोह में नज़र आए थे। पांच साल बाद एक बार फिर पीएम मोदी के शपथ ग्रहण में रिलायंस ग्रुप के प्रमुख मुकेश अंबानी, उनकी पत्नी नीता अंबानी, धार्मिक गुरू सद्गुरू, बिजनेसमैन रतन टाटा हस्तियां राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में दिखाई दिए।

Narendra Damodara Das Modi

कैबिनेट मंत्रियों की सूची –

1 राजनाथ सिंह
2 अमित शाह
3 नितिन गडकरी
4 डी वी सदानंद गौड़ा
5 निर्मला सीतारमण
6 राम विलास पासवान
7 नरेन्द्र सिंह तोमर
8 रविशंकर प्रसाद
9 हरसिमरत कौर
10 थावर चंद गहलोत
11 डॉ. एस जयशंकर
12 रमेश पोखरियाल ‘निशंक’
13 अर्जुन मुंडा
14 स्मृति ईरानी
15 डॉ. हर्षवर्धन
16 प्रकाश जावडे़कर
17 पीयूष गोयल
18 धर्मेंद्र प्रधान
19 मुख्तार अब्बास नकवी
20 प्रह्लाद जोशी
21 डॉ. महेन्द्र नाथ पांडे
22 अरविंद सावंत
23 गिरिराज सिंह
24 गजेन्द्र सिंह शेखावत

राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)
1 संतोष कुमार गंगवार
2 राव इंद्रजीत सिंह
3 श्रीपद येसो नायक
4 डॉ. जितेन्द्र सिंह
5 किरेन रिजिजू
6 प्रह्लाद पटेल
7 राजकुमार सिंह
8 हरदीप सिंह पुरी
9 मनसुख लाल मंडाविया

राज्य मंत्री –
1 फग्गन सिंह कुलस्ते
2 अश्विनी कुमार चौबे
3 अर्जुन राम मेघवाल
4 वी के सिंह
5 कृष्ण पाल गुर्जर
6 रावसाहेब दादाराव दानवे
7 गंगापुरम किशन रेड्डी
8 पुरुषोत्तम रुपाला
9 राम दास अठावले
10 साध्वी निरंजन ज्योति
11 बाबुल सुप्रियो
12 संजीव कुमार बालियान
13 संजय धोत्रे
14 अनुराग सिंह ठाकुर
15सुरेश अंगडी़
16नित्यानंद राय
17 रतन लाल कटारिया
18 बी मुरलीधरन
19 रेणुका सिंह सरुता
20 सोम प्रकाश
21 रामेश्वर तेली
22प्रताप चंद्र सारंगी
23 कैलाश चौधरी
24 देवश्री चौधरी

इससे पहले सुबह बापू की समाधि पर नमन करने के बाद पीएम मोदी ने आश्वस्त किया कि नागरिक-नागरिक में कोई भेद नहीं किया जाएगा। राजघाट के बाद पीएम मोदी ने अटल बिहारी वाजपेयी की समाधि पर पुष्प अर्पण कर अटल के आदर्शों को प्रणाम किया तो वहीं वॉर मेमोरियल जाकर देश के वीर जवानों को सलाम किया। इसके बाद शुरू हुआ एक ऐसा उत्सव जिसने विदेशी मेहमानों से लेकर देश के फिल्मी सितारों और उद्योगपतियों को एक ही जगह पर एकत्रित कर दिया।